आसन शुद्धि मंत्र ( Aasan Shuddhi Mantra in Hindi )

0
368
views

Shuddhi mantra in Hindi – किसी प्रकार की भी पूजा, स्तुति या शुभारम्भ हो तो जिस आसन पर आप विराजमान हो, उसे पहले शुद्ध कर लें . कोई भी पूजा हो , आसन शुद्धि आवश्यक है . आसन शुद्धि करने की भी विधि है तथा मन्त्र है. जिसके द्वारा आसन की शुद्धि होती है . 

आसन शुद्धि मंत्र  ( Aasan Shuddhi Mantra in Hindi )

ऊँ पृथ्वीत्वया धृता लोकादेवि त्वं विष्णुना धृता,

 त्वं च धारय मां देवि पवित्र कुरु चासनम् |

( shuddhikaran mantra )

आसन वो स्थान होता है जिस पर आप विराजमान हो कर भगवान की आराधना करते हैं , इसका शुद्ध होता आवश्यक है .
शास्त्रों में भी पूजा के आसन को उच्च स्थान दिया गया है , वो इसलिए क्योंकि आसन मनुष्य और भगवान के जुड़ाव का सेतु है. भगवान से प्रार्थना हम इसी आसन पर विराजमान हो कर करते हैं . अतः इस सेतु का शुद्ध होना आवश्यक है .

आसन शुद्धि की विधि –

Aasan Shuddhi ki Vidhi – आसन शुद्धि करने के लिए ऊपर दिए गए मन्त्र का उच्चारण करते समय जल के छीटे आसन पर दें . इस प्रकार आसन की शुद्धि होती है और पूजा और हवन की पवित्रता बढ़ती है.

आसन शुद्धि से उच्च विचारों का आगमन होता है और शांति तथा ध्यान मिलता है. अतः जब भी कभी पूजा या भगवान के कार्य के लिए आसन पर बैठना हो तो पहले आसन शुद्धि कर लें. धन्यवाद

Aasan shuddhi mantra / Aasan Pavitra mantra

Leave a Reply